चीन ने चंद्रमा की सतह पर अंतिरक्ष यान सफलतापूर्वक उतार दिया.

वाशिंगटन:

चांद पर उतरा चीन का अंतरिक्षयान : न्यूज एजेंसी AFP ने स्टेट मीडिया के हवाले से खबर दी है. चीन के सरकारी मीडिया ने बताया है कि चीन ने मंगलवार को अपने ऐतिहासिक मिशन के तहत चांद की सतह पर मानवरहित अंतरिक्ष यान सफलतापूर्वक उतार दिया है. यह यान चांद की सतह से नमूनों को एकत्रित करेगा. चीन ने 24 नवंबर को अपना चेंज-5 (Chang’e-5 ) मिशन शुरू किया. इसका नाम चंद्रमा की पौराणिक चीनी देवी के नाम पर रखा गया है. मिशन का उद्देश्य चंद्रमा की उत्पत्ति के बारे में अधिक जानने में वैज्ञानिकों की मदद करने के लिए चांद से सामग्री एकत्र करना है.

यह भी पढ़ें

यह मिशन ओशियस प्रोसेलरम, या “ओशन ऑफ स्ट्रॉम्स” के रूप में जाने जाने वाले एक ऐसे विशाल लावा मैदान में में दो किलोग्राम (4-1 / 2 एलबीएस) नमूने एकत्र करने का प्रयास करेगा, जहां पहले पहुंचने का प्रयास नहीं किया गया है.

यदि मिशन तय योजना के अनुसार पूरा किया जाता है, तो यह अमेरिका और सोवियत संघ के बाद चीन को चांद के नमूनों को पुनः प्राप्त करने वाला तीसरा राष्ट्र बना देगा. चंद्रमा की सतह पर नीचे उतरने वाला लैंडर व्हीकल चेंज -5 प्रोब इस मिशन के लिए तैनात कई अंतरिक्ष यानों में से एक है.

माना जाता है कि उतरने के बाद लैंडर व्हीकल की रोबोट की भुजा से जमीन में ड्रिल करेगा. फिर मिट्टी और चट्टान के नमूनों को एक एसेंडर व्हीकल में रखेगा. एक परिक्रमा मॉड्यूल के साथ वह बंद होगा.

Newsbeep

चीन के सरकारी मीडिया सीसीटीवी ने कहा है कि यह अगले दो दिनों में चांद की सतह पर सेम्पल एकत्रित करना शुरू कर देगा. नमूनों को पृथ्वी पर भेजने के लिए एक उन्हें एक कैप्सूल में स्थानांतरित किया जाएगा, जो कि चीन के भीतरी मंगोलिया क्षेत्र में उतरेगा.

चीन ने साल 2013 में चांद पर अपनी पहली लैंडिंग की थी. पिछले साल जनवरी में चेंज -4 प्रोब के तहत चंद्रमा की ऊपरी सतह को छुआ गया. यह किसी भी राष्ट्र का इस तरह का पहला अंतरिक्ष मिशन था.

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here